Education

Chand Par Kon Kon Gaya Hai | चाँद पर कौन-कौन गया है

नमस्कार दोस्तों ! क्या आप जानते हैं चाँद पर कौन-कौन गया है (Chand Par Kon Kon Gaya Hai), क्या आप भी यह जानना चाहते हैं कि नील आर्मस्ट्रांग के अलावा अब तक चाँद पर कितने लोग जा चुके हैं। चाँद को हम चंदा मामा के नाम से बचपन से जानते हैं और इनके बारे में हमने कई सारी कहानियां भी सुनी है

परंतु आपने कभी यह नहीं सोचा होगा कि जो चाँद हमें आसमान में इतनी दूर दिखाई देता है उस पर लोग भी जाकर वापस पृथ्वी पर आ चुके हैं। जी हां हमारे प्यारे चंदा मामा पर विदेश के कई सारे एस्ट्रोनॉट अब तक जा चुके हैं। तो चलिए मैं आपको बताती हूं कि चाँद पर कौन-कौन गया है (Chand Par Kon Kon Gaya Hai)।

चाँद क्या है चाँद कैसे बना

चांद क्या है चाँद कैसे बना इस सवाल के वैसे तो कई जवाब हैं परंतु वैज्ञानिकों को के अनुसार करोड़ों अरबों साल पहले एक बड़ा ग्रह पृथ्वी से टकरा गया था जिसके कारण पृथ्वी का कुछ हिस्सा टूटकर उससे अलग हो गया और वह हिस्सा अलग होकर चांद बना। पृथ्वी का टूटा हुआ हिस्सा पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण से बाहर जाकर एक अलग ग्रह बन गया धीरे-धीरे उसके प्रकृति में परिवर्तन आने के कारण वह सफेद और ठंडा चांद बन गया।

वैज्ञानिकों का कहना है कि चांद हिलियम नियॉन और आर्गन जैसी गैसों से बना हुआ है। परंतु हिंदू पुराणों में चांद को एक देवता का दर्जा दिया गया है और इसे देवता के रूप में पूजा भी जाता है। अब चांद क्या है चाँद कैसे बना यह बात यहीं छोड़ कर हम यह जानते हैं कि अब तक चाँद पर कौन-कौन गया है (Chand Par Kon Kon Gaya Hai)।

ये भी पढ़े: Aaj Raat ka Mausam Kaisa Rahega

चाँद पर कौन-कौन गया है (Chand Par Kon Kon Gaya Hai)

अगर लोगों से पूछा जाए कि अब तक चाँद पर कौन-कौन गया है (Chand Par Kon Kon Gaya Hai) तो उन्हें नील आर्मस्ट्रांग के अलावा किसी के बारे में पता नहीं है उन्हें लगता है कि नीलम स्टोन के अलावा अब तक कोई चांद पर नहीं गया है।

तो आपको थोड़ा आश्चर्य जरूर होगा परंतु नील आर्मस्ट्रांग के अलावा अब तक कुल 12 लोग चांद पर जा चुके हैं।

चांद पर जाने वाले लोगों के नाम–

  1. नील आर्मस्ट्रांग (Neil Armstrong), जुलाई 1969
  2. बज एल्ड्रिन(buzz Aldrin), जुलाई 1969
  3. चार्ल्स कोनराड(Charles Conrad), नवंबर 1969
  4. एलन बीन(Alan bin), नवंबर1969
  5. एलन शेपार्ड (Ellen shepherd), फरवरी 1971
  6. एडगर मिचेल(Edgar Michel), फरवरी 1971
  7. डेविड स्कॉट(David scot),  अगस्त 9271
  8. जेम्स इरविन(James Irwin), अप्रैल 1972
  9. जॉन यंग(John young), अप्रैल 1972
  10. चार्ल्स ड्यूक(Charles Duke), अप्रैल 1972
  11. हैरिसन श्मित्त(Harrison Smith) दिसंबर 1972
  12. युगेने सरन(eugene cernan), दिसंबर 1972

चांद पर जाने वाले लोग

1.Neil Armstrong– जैसे की हम सब जानते हैं कि नील आर्मस्ट्रांग चांद पर पहला कदम रखने वाले सबसे पहले इंसान थे। नील आर्मस्ट्रांग अमेरिकी नागरिक थे उनका जन्म 5 अगस्त 1930 को अमेरिका में हुआ था। 20 July 1970 को नासा ने अपोलो 11 मिशन के तहत नील आर्मस्ट्रांग को चांद पर भेजा था।

2. बज एल्ड्रिन – नील आर्मस्ट्रांग के साथ चांद पर दूसरा कदम रखने वाले इंसान थे बज एल्ड्रिन। यह भी एक अमेरिकी नागरिक थे और इनका जन्म 20 जनवरी 1930 को अमेरिका में हुआ था। उन्हें भी नील आर्मस्ट्रांग के साथ अपोलो 11 मिशन पर भेजा गया था।

3. चार्ल्स कोनराड – चार्ल्स कोनराड चांद पर कदम रखने वाले तीसरे व्यक्ति थे। इनका जन्म 2 जून 1930 को अमेरिका में हुआ था। अमेरिका द्वारा चलाए गए मिशन अपोलो 12 में चार्ल्स कोनराड को चांद पर भेजा गया था।

4. एलन बीन– यह चांद पर कदम रखने वाले चौथे रखती हैं नासा द्वारा आयोजित अपोलो मिशन 12 में एलेन बीन भी शामिल थे। यह भी चार्ल्स कोनराड के साथ चांद पर गए थे। एलन बीन भी एक अमेरिकन नागरिक थे और इनका जन्म 15 मार्च 1932 को अमेरिका में हुआ था।

5. एलान शेपर्ड– एलन शेपर्ड चांद पर जाने वाले पांचवें व्यक्ति हैं। इन्हें नासा के अपोलो मिशन 14 में चांद पर भेजा गया था। इनका जन्म 18 नवंबर 1923 को केलिफोर्निया यूनाइटेड स्टेट में हुआ था। यहां नासा में कार्यरत थे और 1974 में नासा से रिटायर हो गए।

6. एडगर मिचेल – यह चांद पर जाने वाले 6th व्यक्ति है इन्हें अपोलो मिशन 14 के अंतर्गत एलन शेफर्ड के साथ चंद्रमा पर भेजा गया था। इनका जन्म 17 सितंबर 1930 को यूनाइटेड स्टेट में हुआ था।

7. डेविड स्कॉट – डेविड स्कॉट चंद्रमा पर कदम रखने वाले सातवें इंसान थे इन्हें नासा के अपोलो 15 मिशन के अंतर्गत 1971 में चांद पर भेजा गया था। डेविड स्कॉट एक पायलट और एस्ट्रोनॉट थे। उनका जन्म 6 जून 1932 में यूनाइटेड स्टेट में हुआ था।

8. जेम्स इरविन – जेम्स इरविन चांद पर जाने वाले आठवें व्यक्ति है इन्हें नासा के अपोलो मिशन 15 के अंतर्गत डेविड स्कॉट के साथ चांद पर भेजा गया था। उनका जन्म 17 मार्च 1930 को यूएस में हुआ था। जेम्स इरविन  एयरोनॉटिकल इंजीनियर थे।

9. जॉन यंग – यह चांद पर कदम रखने वाले 9वे व्यक्ति थे। अपोलो मिशन 16 के अंतर्गत 1972 में कमांडर के तौर पर चांद पर भेजा गया था। इनका जन्म 24 सितंबर 1930 को सैन फ्रांसिस्को में हुआ था।

10. चार्ल्स ड्यूक – यहां चांद पर जाने वाले 10वे व्यक्ति हैं। अपोलो मिशन 16 के अंतर्गत इन्हें 1972 में चांद पर भेजा गया था। उनका जन्म 3 अक्टूबर 1935 में यूनाइटेड स्टेट में हुआ था। यह एक अमेरिकन एयर फोर्स पायलट थे।

11. यूजीन सर्नन – यहां चांद पर जाने वाले विश्व के 11 व्यक्ति थे। इन्हें नासा द्वारा अपोलो मिशन 17 में चांद पर भेजा गया था। उनका जन्म 14 मार्च 1934 शिकागो यूनाइटेड स्टेट में हुआ था। यहां नासा में एक इलेक्ट्रिक इंजीनियर और एस्ट्रोनॉटिकल इंजीनियर की पद पर कार्यरत थे।

12. हैरिसन श्मिट – यहां चांद पर जाने वाले 12वे और आखिरी व्यक्ति थे। इन्हें नासा के अपोलो मिशन 17 में यूजीन के साथ चांद पर भेजा गया था। इनका जन्म 3 जुलाई 1935 को यूनाइटेड स्टेट में हुआ था।

चांद पर सबसे ज्यादा जाने वाले लोग नासा द्वारा भेजे गए थे। इनके बाद चांद पर जाने वालों में और भी कई नाम शामिल है जिनके बारे में मैं आपको आगे बताऊंगी परंतु यह 12 लोग चांद पर सबसे पहले जाने वाले लोगों में से एक है।

चांद पर कैसे जाते हैं

चांद पर जाने के लिए सबसे पहले आपको एयरफोर्स पायलट बनना होता है इसके बाद एयरोनॉटिकल इंजीनियर भी बनना होता है। चांद पर जाने के लिए आपको अमेरिकन रिसर्च सेंटर नासा में कार्यरत होना होगा इसके बाद आपको अंतरिक्ष यात्री बनने का परीक्षण दिया जाएगा। परीक्षण में दिखाए जाने वाले कार्य कुछ इस तरह है।

  • आपको एयरक्राफ्ट का सारा ज्ञान दिया जाएगा
  • आपको पृथ्वी पर ही 3 महीने अंतरिक्ष पर रहने की ट्रेनिंग दी जाएगी।
  • आपको कम हवा में सांस लेने की प्रैक्टिस करना होगी।
  • आपको 6 महीने तक जीरो ग्रेविटी सेंटर में रहना होगा।
  • इसके बाद आपको चांद पर भेजने के लिए तैयार कर दिया जाएगा

आशा करती हूं कि आपको इस आर्टिकल से यह जानने में सहायता हुई होगी कि चाँद पर कौन-कौन गया है (Chand Par Kon Kon Gaya Hai) जानकारी पसंद आने पर आर्टिकल को लाइक अवश्य करें तथा अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें। इस आर्टिकल चांद पर कौन कौन गया है से जुड़ा आपका कोई सवाल हो तो हमें कमेंट कर जरूर बताएं।

FAQ-चाँद पर कौन-कौन गया है (Chand Par Kon Kon Gaya Hai)

चांद की पृथ्वी से दूरी कितनी है?

3,84,400 किलोमीटर

क्या चांद पर जमीन खरीद सकते हैं?

जी हां आप चांद पर जमीन ले सकते हैं इसके लिए आपको www.lunarregistry.com पर जाकर जमीन खरीद सकते हैं।

चांद पर किसने जमीन खरीदी?

सुशांत सिंह राजपूत शाहरुख खान जैसे बड़े सेलिब्रिटी के चांद पर प्लॉट बुक है।

चांद पर सबसे पहले जमीन किसने खरीदी थी?

ओमप्रकाश जांगिड़ इस्लामाबाद पाकिस्तान।

चांद का मालिक कौन है?

चांद पृथ्वी से अलग है इसलिए उस पर किसी का भी हक नहीं है उस पर हक जताना एक गैर कानूनी अपराध है।

क्या भारतीय चांद पर जमीन खरीद सकते?

जी बिल्कुल खरीद सकते हैं।

क्या चांद पर पानी है?

जी हां वैज्ञानिकों द्वारा चांद पर पानी होने का दावा किया गया है।

क्या चंद्रमा पर जीवन संभव है?

जी नहीं क्योंकि चंद्रमा से सूर्य बहुत पास है जिसकी वजह से वहां जीवन संभव हो ना थोड़ा कठिन है।

चांद ना होता तो क्या होता?

पृथ्वी को स्थिर रखने के लिए चंद्रमा के गुरुत्वाकर्षण का बड़ा हाथ है अगर चंद्रमा ना होता तो पृथ्वी कभी स्थिर नहीं हो पाती।

चांद पर घर बनाने में कितना खर्चा आएगा?

300 से 400 करोड़ क्योंकि आपको सारा सामान पृथ्वी सही लेकर जाना होगा।

चांद पर खेती संभव है?

वैज्ञानिकों द्वारा चांद की मिट्टी पर पौधे उगाने का प्रयास किया गया था चांद की मिट्टी पृथ्वी की मिट्टी की तरह उपजाऊ ना होने पर भी चांद की मिट्टी में पौधे उत्पन्न हुए थे।

चांद पर  पहला पौधा कौन सा लगाया गया था?

चांद पर सबसे पहले कपास का पौधा उगाया गया था।

चांद पर काले दाग क्यों हैं?

चांद की सतह पर कई बड़े-बड़े गड्ढे हैं जो कि सूर्य की रोशनी से परछाई की तरह दिखाई देते हैं।

चांद पर जमीन की कीमत कितनी है?

चांद पर जमीन की कीमत $34 प्रति एकड़ है।

चांद पर जमीन कौन बेचता है?

चांद की जमीन इंटरनेशनल लूनर रजिस्ट्री द्वारा बेची जाती है।

चांद की कीमत इंडियन रुपए में कितनी है?

लगभग ₹11000 प्रति एकड़

क्या चांद पर इंसान रह सकते हैं?

जी हां चांद पर इंसान का जीवन संभव है वैज्ञानिकों ने इसके बारे में और भी कई शोध किए हैं।

चांद पर 1 दिन पृथ्वी के कितने दिन के बराबर होता है?

चांद का 1 दिन पृथ्वी के 14 दिन के बराबर होता है।

चंद्रमा के पिता और भाई का नाम क्या था?

चंद्रमा के पिता का नाम महर्षि अत्रि और चंद्रमा के भाई का नाम दत्तश्रेय है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button