Education

MBA KA Full Form | एमबीए क्या है, इसका फुल फॉर्म जाने Hindi Me

नमस्कार दोस्तों आज की इस पोस्ट में आप जानेंगे MBA ka full form और साथ ही साथ आपको MBA kaise kare के बारे में भी जानने को मिलेगा। दोस्तों कई सारे स्टूडेंट्स अपनी 12th क्लियर करने के बाद बेस्ट करियर ऑप्शन तलाशते हैं। जिसके बाद उन्हें अपने अभिवावक या अन्य जगहों से MBA Course के बारे में पता चलता है।

कई स्टूडेंट्स को MBA Course की जानकारी होती है वही कई बच्चे इस प्रश्न को तलाशते हैं की MBA kya hota hai और MBA कैसे करें क्योंकि उन्हें MBA ka full form और इसके बारे में जानकारी नहीं होती है। इसलिए ही हम आज की पोस्ट के माध्यम से आपको MBA ka full form और MBA kaise kare और इसे कैसे करें के विषय में जानकारी लाए हैं। तो चलिए बढ़ते हैं आगे आर्टिकल की ओर

MBA ka full form

MBA ka Full Form होता है Master of Business Administration होता है। यह एक बहुत ही पॉपुलर कोर्स है जिसे देशभर के यहां तक की विदेश के भी लाखों बच्चे करते हैं। MBA एक दो साल का एक पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स होता है जिसे ग्रेजुएशन कर चुके विद्यार्थी करते हैं। इस कोर्स से आप कई बिजनस स्किल्स, मार्केटिंग, मैनेजमेंट स्किल्स सिख सकते हैं। MBA में एडमिशन लेने के लिए CAT, CMAT, MAT, NMAT, XAT, GMATE जैसी एग्जाम्स पास करनी होती है। हालांकि कई ऐसे भी कॉलेजेस हैं जो बिना एग्जाम्स के भी एडमिशन प्रोवाइड करवाते हैं। 

MBA kya hota hai

MBA एक पोस्ट ग्रेजुएशन कोर्स होता है जिसे आप अपनी ग्रेजुएशन कंप्लीट करने के बाद कर सकते हैं। इसके लिए आपको अपनी 12वी कक्षा सफलतापूर्वक पूरी करनी होगी और इसके बाद आपको अपना ग्रेजुएशन भी कॉम्पलीट करना होगा। आपके ग्रेजुएशन में 50 प्रतिशत तक आना अनिवार्य है तत्पश्चात आप MBA का कोर्स कर सकते हैं। वैसे तो MBA करने के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम देनी होती है लेकिन बहुत से कॉलेजेस ऐसे भी हैं जो बिना एंट्रेंस एग्जाम के भी एडमिशन देते हैं।

MBA kaise kare

MBA kya hota hai तो आप जान ही चुके हैं लेकिन MBA करने के लिए आपको MBA kaise kare पता होना चाहिए। दोस्तों एमबीए कोर्स को करने के लिए आपको अपनी 12वी क्लास पास करनी होती है। अगर आपके मन में ये शंका है की MBA के लिए कौनसा कोर्स लें तो इसके लिए आपको ज्यादा परेशान होने की जरूरत नहीं है। वैसे तो MBA यानी मास्टर्स ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन BBA करने के बाद करते हैं लेकिन अन्य स्ट्रीम जैसे साइंस, आर्ट्स, कॉमर्स से अपना ग्रेजुएशन करने वाले बच्चे भी इस कोर्स को कर सकते हैं। एमबीए डिग्री प्राप्त करने के बाद आपके पास एचआर मैनेजर, फाइनेंस मैनेजर, आईटी मैनेजर बनने जैसे ऑप्शंस होते हैं। 

  • सबसे पहले ग्रेजुएशन 50 प्रतिशत से कंप्लीट करने के बाद आप एंट्रेंस एग्जाम दे सकते हैं।
  • अगर आप एंट्रेंस एग्जाम न देना चाहें तो आप बिना प्रवेश परीक्षा के भी आप कई एमबीए कॉलेज में एडमिशन ले सकते हैं।
  • अगर आप एंट्रेंस एग्जाम देते हैं तो आपको आपकी रैंक के अनुसार टॉप लेवल के कॉलेज में एडमिशन मिल जाता है।
  • आप चाहे तो रेगुलर, प्राइवेट या डमी स्टूडेंट के रूप में भी अपनी पढ़ाई जारी रख सकते हैं।

MBA के लिए एंट्रेंस एग्जाम

MBA के लिए अच्छे कॉलेज की इच्छा रखने वाले उम्मीदवारों को IIM द्वारा आयोजित की जाने वाली CAT एग्जाम को पास करना होता है। कैट एग्जाम को टफेस्ट एग्जाम्स में से एक माना जाता है। अगर आपका सपना IIM में ही ऐडमिशन लेने का है तो आप। कैट एग्जाम को दे सकते हैं अन्यथा आप बिना एंट्रेंस एग्जाम के भी एडमिशन पा सकते हैं। IIM में दाखिला लेने के लिए आपको कैट एग्जाम की तैयारी करनी होगी। 

CAT की तैयारी कैसे करें

कैट की तैयारी करने के लिए सबसे पहले तो आपको इसका सिलेबस समझना होगा। इसके बाद आप टाइम टेबल बनाइए और उसके अनुसार हर एक सब्जेक्ट को पढ़िए। इसके अलावा आप कैट एग्जाम के लास्ट ईयर के पेपर भी सॉल्व करते रहिए। पुराने कुछ सालों के प्रश्न पत्रों को हल करने से आपको पेपर पैटर्न भी समझ आ जायेगा और यह भी पता लग जायेगा की पेपर में किस तरह के प्रश्न पूछे जाते हैं। आप जिस विषय में कमजोर है उसे रोजाना थोड़ा समय दें एवं समय समय पर अपना टेस्ट लेते रहें जिससे आपको अपनी तैयारी के विषय में पता लग जायेगा की आपकी पेपर को लेकर कितनी तैयारी हुई है।

MBA के लिए भारत में टॉप कॉलेजेस

भारत में MBA करने के लिए कुछ सर्वश्रेष्ठ कॉलेजेस की सूची 

  • Indian institute of Management Bangalore
  • Indian institute of Management Ahmedabad
  • Indian institute of Management Kozhikode
  • Indian institute of Management Lucknow
  • Indian institute of Management Indore
  • XLRI Jamshedpur
  • Indian institute of Management, Raipur
  • Indian institute of Management, Udaipur
  • Indian institute of Management, Tiruchirapalli
  • SP. Jain Indian institute of Management and Research, Mumbai

MBA करने के फायदे

MBA course को करने के बाद आपको कई सारे फायदे मिल जाते हैं

  • MBA करने के बाद आप कई सारी बिजनेस स्किल्स सिख जाते हैं जो की मार्केटिंग, बिजनस मैनेजमेंट आदि फील्ड में काम आता है।
  • आप किसी अच्छी मल्टीनेशनल कंपनी में जॉब के लिए आवेदन कर सकते हैं। 
  • एमबीए करने के बाद अपना खुदका स्माल स्टार्टअप या बिजनेस भी कर सकते हैं।
  • MBA करने के बाद आपको अच्छी कॉम्पनीस में हाईली पैड जॉब्स मिल जाती हैं।

निष्कर्ष

आशा करती हूं की आपको आज की पोस्ट के माध्यम से MBA ka Full Form और MBA kaise kare के संदर्भ में दी गई जानकारी पसंद आई होगी। अगर आपको यह पोस्ट पसंद आई है तो इसे लाइक और शेयर जरूर करें। साथ ही कॉमेंट बॉक्स में अपने विचार लिखना न भूलें। हमारी वेबसाइट पर आकर अपना अमूल्य समय देने के लिए आपका धन्यवाद।

FAQs- MBA Kaise Kare

1. MBA कौन कर सकता है

कोई भी ग्रेजुएट स्टूडेंट्स जिसने अपना ग्रेजुएशन कंप्लीट कर लिया है वह MBA कर सकता है।

2. MBA कितने साल का कोर्स है

MBA कोर्स 2 साल की मास्टर्स डिग्री होती है जिसमें 4 सेमेस्टर होते हैं यानी कुल 8 सेमेस्टर। 

3. MBA के लिए कौनसा विषय लेना पड़ता है

आपने चाहे जिस भी विषय से अपना ग्रेजुएट किया हो आप MBA कर सकते हैं। MBA एक मास्टर्स है जिसे आप ग्रेजुएट करने के बाद कर सकते हैं।

4. क्या Btech के बाद MBA कर सकते हैं

जी हाँ, बिल्कुल आप Btech यानि की इंजिनीयरिंग के बाद आप MBA कोर्स कर सकते हैं।

5. MBA करने के लिए qualifications

MBA करने के लिए आपका किसी भी स्ट्रीम से 50 प्रतिशत से ग्रैजुएट होना अनिवार्य होता है। इसके बाद आप MBA में ऐडमिशन लेने के योग्य हो जाते हैं।

6. MBA में कितनी सैलरी मिलती है

MBA में फ्रेशर्स का सालाना पैकेज शुरुआत में 5 से 10 लाख रुपए का होता है। वहीं प्रमोशन के बाद या ऊंचे स्तर पर जाने के बाद यही पैकेज बढ़कर 30 35 लाख से 50 55 लाख तक हो जाती है। 

MBA kya hota hai

MBA एक पोस्ट ग्रेजुएशन डिग्री है जिसे BBA करने वाले एवं अन्य स्ट्रीम से ग्रैजुएशन पास करने वाले स्टूडेंट्स करते हैं। 

4. MBA की फीस कितनी है

MBA की फीस कॉलेजों पर निर्भर करती हैं लेकिन देखा जाए तो MBA की फीस 50 हज़ार से लेकर 3 लाख रुपए तक होती ह

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button