Education

Pilot Kaise Bane – पायलट बनने के लिए कौन सी पढ़ाई करें

हेलो दोस्तों कैसे हैं आप सब हम उम्मीद करते हैं कि आप अच्छे होंगे दोस्तों बहुत से लोगों का सपना होता है कि वह पायलट बने इसके लिए वह दिन रात मेहनत करके पढ़ते हैं ताकि वह पायलट का पोस्ट हासिल कर सके। तो दोस्तों आज हम इस लेख में बात करने जा रहे हैं पायलट कैसे बने।

पायलट कैसे बने (Pilot Kaise Bane)

एक बेहतर पायलट बनना इतना आसान नहीं है, इसके लिए आपको कड़ी मेहनत करनी होगी, अब कई तरह के पायलट हैं, कई एयर फोर्स पायलट हैं, कुछ कमर्शियल पायलट हैं जो एक जगह से दूसरी जगह जाने के लिए प्लेन उड़ाते हैं। एक अलग प्रक्रिया है, इसलिए यहां हम आपको एक कमर्शियल पायलट बनने के बारे में जानकारी दे रहे हैं।

पायलट कैसे बने और एक पायलट के लिए पात्रता मानदंड क्या होनी चाहिए

अगर आप 12वीं के बाद पायलट बनना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको 12वीं की परीक्षा पास करनी होगी, वो भी साइंस में फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ्स विषय के साथ, तो अगर आप अभी 10वीं की पढ़ाई कर रहे हैं तो 10वीं पास करने के बाद कोई साइंस चुनें  सीधे 11वीं विषय के बाद ही आप पायलट बन सकते हैं, आगे जाकर आपके बारहवीं में कम से कम 50% अंक होना बहुत जरूरी है।

विज्ञान विषय के साथ 12वीं पासबारहवीं में 50% अंक प्राप्त करें
अंग्रेजी भाषा सीखें इसे बेहतर बनाएं

एक पायलट के लिए पात्रता मानदंड

फिजिक्स केमिस्ट्री और मैथ विषय के साथ 12 वीं पास होना चाहिए।12वीं में कम से कम 50% अंक होने चाहिए
भारत का नागरिक होना चाहिएहाइट कम से कम 5 फीट होनी चाहिए
आंखों की दृष्टि सही होनी चाहिए।

छात्र पायलट लाइसेंस के लिए आवेदन कैसे करें ।

जैसे ही आप 12वीं पास करते हैं उसके बाद आपको पायलट बनने के लिए छात्र पायलट लाइसेंस के लिए सीधे आवेदन करना होता है, जिसे हम संक्षेप में एसपीएल भी कहते हैं, तो इसके लिए आपको डीजीसीए यानी नागरिक उड्डयन महानिदेशालय, जो भी कॉलेज सरकार के अधीन है। भारत सरकार में आपको इसमें एडमिशन लेना होता है और एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करना होता है और उसके बाद आपको मेडिकल टेस्ट भी देना होता है तो स्टूडेंट पायलट लाइसेंस के लिए कुछ जरूरी बातें हैं जो आपको पता होनी चाहिए।

  • 12वीं में विज्ञान के साथ गणित विषय होना चाहिए
  • आपकी उम्र में कम से कम 16 साल होनी चाहिए।
  • बीसीए कॉलेज में प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन करें प्रशिक्षण पूरा करें।
  • आपको मेडिकल  पास होना चाहिए। 
  • आपके पास इसके लिए एक अच्छा बैंक बैलेंस होना चाहिए। 

निजी पायलट लाइसेंस के लिए अभी आवेदन करें

जैसे ही एसपीएल क्लियर करने के बाद आपको प्राइवेट पायलट लाइसेंस के लिए अप्लाई करना होता है, जिसे हम (पीपीएल) भी कहते हैं, तो यहां भी आपको परीक्षा देनी होगी और पायलट बनने के लिए अपनी ट्रेनिंग पूरी करनी होगी। दूसरा चरण है पायलट बनना, एसपीएल सर्टिफिकेट के बाद आपको पीपीएल सर्टिफिकेट की जरूरत पड़ेगी, यह थोड़ा मुश्किल होगा।

वाणिज्यिक पायलट लाइसेंस के लिए अभी आवेदन करें

जैसे ही आप (SPL) और (PPL) की ट्रेनिंग पूरी कर लेते हैं, तो इसके बाद आपको कमर्शियल पायलट बनने के लिए सीधे कमर्शियल पायलट लाइसेंस के लिए अप्लाई करना होता है, जिसे हम इसमें (CPL) भी कहते हैं।  आपको कुछ परीक्षाएं देनी होती हैं, आपको कुछ परीक्षाएं देनी होती हैं, जैसे ही आप इस परीक्षा को भी पास कर लेते हैं, उसके बाद आपको एक वाणिज्यिक पायलट कहा जाता है।

तो यहां लोगों का सवाल है कि पायलट बनने में कितना खर्चा आता है, इसलिए अगर आप पायलट बनना चाहते हैं, तो इसमें काफी खर्च आता है, इसकी कीमत लगभग 20 लाख से 25 लाख होती है, इसलिए आप इसमें हैं। एक बार जब आप प्लेन उड़ा लेते हैं तो आपको ट्रेनिंग के समय उसके हिसाब से पैसे देने पड़ते हैं, इसके साथ ही पायलट बनने के और भी खर्चे होते हैं।

कमर्शियल पायलट कैस बने

एक वाणिज्यिक पायलट वह है जो इंडियन एयरलाइंस के एक विशेष विमान को उड़ाता है। हालांकि, एक व्यक्ति जिसने भारतीय प्राधिकरण से वाणिज्यिक पायलट प्रमाणपत्र प्राप्त किया है, उसे उड़ान भरने की अनुमति है। आपने भारतीय एयरलाइंस जैसे एयर इंडिया, इंडिगो, जेट एयरवेज आदि का नाम सुना होगा। ये सभी कमर्शियल पायलट हैं।

पायलट की सैलरी कितनी है?

भारतीय वायुसेना में एक पायलट की सैलरी करीब 86,110 रुपये प्रति माह हो सकती है। सेवा में अनुभव या पदोन्नति के बाद 1.5 लाख वेतन। कमर्शियल पायलट जॉब भारत में सबसे अधिक भुगतान वाली नौकरियों में से एक है। इसके साथ ही यात्रा से जुड़े अन्य लाभ भी हैं। पायलट बनने की प्रक्रिया में पैसों के साथ-साथ कड़ी मेहनत भी करनी पड़ती है,

पायलट प्रशिक्षण शुल्क

पायलट प्रशिक्षण शुल्क संस्थान से संस्थान में भिन्न होता है।  फीस इस बात पर भी निर्भर करती है कि आप किस तरह के कॉलेज से पायलट ट्रेनिंग कोर्स कर रहे हैं। फिलहाल इसकी फीस 30 से 40 लाख के बीच है। अगर आप किसी और नामी कॉलेज में एडमिशन लेते हैं तो वहां इसकी फीस 50 से 70 लाख हो सकती है।

भारत में पायलट प्रशिक्षण के लिए सर्वश्रेष्ठ स्कूल

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय उड़ान अकादमीइंडिगो कैडेट प्रशिक्षण कार्यक्रम
पुडुचेरी ठाकुर कॉलेज ऑफ एविएशनबॉम्बे फ्लाइंग क्लब
ओरिएंट फ्लाइंग स्कूलराजीव गांधी एकेडमी ऑफ एविएशन टेक्नोलॉजी
राष्ट्रीय उड़ान प्रशिक्षण संस्थानमध्य प्रदेश फ्लाइंग क्लब
अहमदाबाद एविएशन एंड एरोनॉटिक्स लिमिटेडसीएई ऑक्सफोर्ड एविएशन अकादमी
सरकारी विमानन प्रशिक्षण संस्थानगवर्नमेंट फ्लाइंग क्लब
विमानन और विमानन सुरक्षा संस्थानएशियाटिक इंटरनेशनल एविएशन एकेडमी इंदौर
पायलट ट्रेनिंग दिल्ली का एक्यूमेन स्कूलभारतीय उड्डयन अकादमी मुंबई
इंटरनेशनल स्कूल ऑफ एविएशन नई दिल्ली

एनडीए के माध्यम से पायलट कैसे बनें

अगर कोई उम्मीदवार प्राइवेट पायलट ट्रेनिंग की फीस नहीं भर पाता है तो वह एनडीए के जरिए भी पायलट बन सकता है।  इसके लिए आपको 12वीं के बाद एनडीए की परीक्षा पास करनी होगी। लेकिन इसमें फॉर्म भरते समय आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि आप एनडीए में एयरफोर्स का चुनाव करें।

एनडीए के माध्यम से आप बान सक्ते को इस तरह से संचालित कर सकते हैं कि सरकार द्वारा चयन के बाद आपको मुफ्त प्रशिक्षण दिया जाता है। उसके बाद आप एयरफोर्स मी पायलट बन जाते हैं। लेकिन एयरफोर्स की नौकरी करीब 15 साल की होती है। इसे पूरा करने के बाद आप प्राइवेट एयरलाइंस में भी पायलट के तौर पर करियर शुरू कर सकते हैं। बहुत से लोग पूछते हैं कि Airforce Me Pilot kaise Bane, तो आप NDA के जरिए ही Airforce में पायलट बनने का अपना सपना पूरा कर सकते हैं।

एनडीए के लिए योग्यता

एनडीए का फुल फॉर्म नेशनल डिफेंस एकेडमी है। इसके लिए उम्मीदवार को भारत का नागरिक होना चाहिए या उम्मीदवार नेपाल, भूटान या तिब्बत का शरणार्थी होना चाहिए। इसकी खास बात यह है कि इसमें अविवाहित उम्मीदवार ही आवेदन कर सकते हैं।  इसके लिए उम्मीदवार की उम्र 15.7 साल से 18.7 साल के बीच होनी चाहिए। आयु सीमा में नियमानुसार छूट का भी प्रावधान है। सभी श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए इसका आवेदन शुल्क 100 रुपये है और यह एससी और एसटी के लिए भी निःशुल्क है।

उम्मीदवार को फिजिक्स, केमिस्ट्री और बायोलॉजी के साथ 12वीं पास होना चाहिए। उम्मीदवारों को शारीरिक और मानसिक रूप से फिट होना चाहिए। एनडीए में चयनित होने के बाद सरकार ही आपके प्रशिक्षण का आयोजन करती है। जिसके बाद आप एयरफोर्स या आर्मी में पायलट बन सकते हैं। सरकारी सेवा पूरी करने के बाद आप निजी क्षेत्र में भी पायलट बन सकते हैं। इस तरह एनडीए के जरिए पायलट बनने के लिए आपको सिर्फ 100 आवेदन शुल्क देना होगा, कोई अन्य खर्च नहीं करना होगा। लेकिन एनडीए की परीक्षा इतनी आसान भी नहीं है. यह बहुत कठिन परीक्षा है। तो आपको इसमें मेहनत करनी होगी।आइए अब हम आपको पायलट बनने का अगला तरीका बताते हैं, जिससे आप पायलट भी बन सकते हैं।

Airforce में पायलट कैसे बने?

अगर आप सेना में पायलट बनना चाहते हैं तो 12वीं के बाद आप एनडीए के जरिए सेना में पायलट बन सकते हैं। अगर किसी उम्मीदवार ने गणित विषय में बीएससी किया है तो वह सीडीएस के जरिए सेना में पायलट बन सकता है।

ये भी पढ़े- Kalyan Panel Chart Kya Hai

निष्कर्ष (conclusion)

दोस्तों आज के इस टॉपिक में हमने आपको बताया Pilot Kaise Bane तो हम उम्मीद करते हैं कि आपको Pilot Kaise Bane के बारे में जो जानकारी दिया गया है वो आपको सही लग रहा होगा तो अगर आपको यह लेख सही लगता है तो आप इसे सोशल मीडिया पर शेयर कर सकते हैं क्योंकि बहुत से ऐसे लोग हैं जो पायलट बनना चाहता है लेकिन उन्हें यह पता नहीं होता है कि वो Pilot Kaise Bane तो उनके लिए काफी जरूरी होगा क्योंकि इस लेख को पढ़कर वो अपना पायलट बनने का सपना पूरा कर सकते हैं ।

FAQs- Pilot  Kaise Bane

एक पायलट की सैलरी कितनी होती है?

एक पायलट की अधिकतम सैलरी 50,000 से 5,00000 तक हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button