Education

वैज्ञानिक कैसे बने | Scientist Kaise Bane

दोस्तों कैसे हैं आप हम उम्मीद करते हैं कि हमारे द्वारा आपको इस वेबसाइट पर जो लेख अपलोड किया जाता है वह आपको पसंद आ रहा होगा तो आज हम इस लेख के माध्यम से जानेंगे scientist kaise bane (वैज्ञानिक कैस बने) तो दोस्तों अगर आप लाइफ में वैज्ञानिक बनना चाहते हैं तो मैं आपको ध्यान में रखते हुए कुछ टॉपिक्स पर बताने जा रहा हूं। जो आपको एक सफल वैज्ञानिक बनने में मदद करेगा, आप इन विषयों को ध्यान से पढ़ेंगे।

वैज्ञानिक कैस बने (scientist kaise bane)

साइंटिस्ट बनने के लिए आपको दसवीं पास करने के बाद फिजिक्स केमेस्ट्री बायोलॉजी मैक जैसे विषयों को चुनना होगा इसके बाद आप किसी भी विषय जैसे msc-phd इंजीनियरिंग आदि में ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन कर सकते हैं अगर आप इस में सफल होते हैं तो सेंड करने के लिए आयोजित पदों के लिए आवेदन कर सकते हैं।

12वीं के बाद वैज्ञानिक कैसे बनें?

अगर आप 12वीं के बाद वैज्ञानिक बनना चाहते हैं या यह जानना चाहते हैं कि वैज्ञानिक बनने के लिए क्या करना पड़ता है तो नीचे आपको इसके बारे में स्टेप बाय स्टेप बताया गया है –

  • साइंटिस्ट बनने के लिए सबसे पहले आपको अपनी 10वीं और 12वीं की पढ़ाई साइंस सब्जेक्ट के साथ पास करनी होगी।
  • फिर आपको किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या संस्थान से कम से कम 60% अंकों के साथ अपनी स्नातक की डिग्री पूरी करनी होगी।
  • उसके बाद आपको किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से कम से कम 65% अंकों के साथ किसी विशेष स्ट्रीम में मास्टर्स डिग्री करनी होगी।
  • इसके अलावा, आप पीएच.डी. प्राप्त कर सकते हैं। किसी भी शोध क्षेत्र में। आप डिग्री प्राप्त कर सकते हैं
  • इसके बाद आपको किसी रिसर्च और लैबोरेट्री में इंटर्नशिप करनी होगी।

वैज्ञानिक के प्रकार

साइंटिस्ट विभिन्न प्रकार के होते हैं, आप निम्न में से कोई भी करियर विकल्प चुन सकते हैं –

भूविज्ञानीभूगोलिक
समुद्री जैववैज्ञानिकनैतिकतावादी
जीवाणुतत्ववेत्तजीवाश्म विज्ञानी
साइटोलॉजिस्टमहामारी
परिस्थितिविज्ञानशास्रीभौतिक
भूकंपजीव
कृषिखगोलविद
वनस्पति-विज्ञानिककेमिस्ट

  

वैज्ञानिक बनने की पूरी प्रक्रिया

अगर आप साइंटिस्ट बनना चाहते हैं तो इसकी स्टेप बाई स्टेप प्रक्रिया नीचे दी गई है –

1. पीसीबी के साथ अपनी 11वीं-12वीं कक्षा पूरी करें

वैज्ञानिक बनने के लिए छात्रों को ऐसा निर्णय लेना चाहिए जिससे वैज्ञानिक बनने की उनकी राह आसान हो।  इसलिए उन्हें उस विषय का अध्ययन करना चाहिए जिसमें वे 10 वीं कक्षा के बाद रुचि रखते हैं और उस विषय में उच्च शिक्षा प्राप्त करना जारी रखते हैं। एक वैज्ञानिक बनने के लिए, एक छात्र को अपनी 11 वीं और 12 वीं कक्षा पीसीबी (भौतिकी, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान) या गणित से पूरी करनी चाहिए।

2. ग्रेजुएशन सही स्ट्रीम से पूरा करें

फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी या मैथ्स के साथ स्कूली शिक्षा पूरी करने के बाद अगला बड़ा फैसला ग्रेजुएशन और आगे की उच्च शिक्षा के लिए सही विषय या स्ट्रीम का चुनाव करना है। छात्र को यह सोचना चाहिए कि वे किस स्ट्रीम में जाना चाहते हैं (बीएससी ऑनर्स या बीएससी प्लेन) और फिर कॉलेज चुनने का फैसला करें।

3. अभी अपनी मास्टर डिग्री पूरी करें

यदि आपने अपना स्नातक पूरा कर लिया है, तो आप मास्टर डिग्री या पीएच.डी.  आप डिग्री का विकल्प चुन सकते हैं। मास्टर ऑफ साइंस, संक्षिप्त एमएससी, 2 साल का पीजी साइंस कोर्स है जो रसायन विज्ञान, भौतिकी, जीव विज्ञान, गणित, वनस्पति विज्ञान, जूलॉजी, फार्मेसी और नर्सिंग जैसे वैज्ञानिक क्षेत्रों में गहन व्यावहारिक और सैद्धांतिक ज्ञान प्रदान करता है।

इंटर्नशिप करना

अपने स्नातक और मास्टर डिग्री के दौरान, विश्वविद्यालयों या कंपनियों के अनुसंधान प्रयोगशालाओं में इंटर्नशिप करना बहुत महत्वपूर्ण है। इंटर्नशिप के दौरान आपको अनुसंधान विधियों, प्रक्रियाओं और वैज्ञानिक उपकरणों से अवगत कराया जाना चाहिए। मास्टर डिग्री के बाद आप रिसर्च असिस्टेंट की नौकरी पा सकते हैं।

वैज्ञानिक बने के लिए पात्रता

शैक्षिक योग्यता

साइंटिस्ट बनने के लिए आपको 10वीं के बाद फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी, मैथ्स जैसे विषयों को चुनना होगा।  इसके बाद आप इन विषयों में ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन कर सकते हैं जैसे- एम एससी, एम फिल, पीएचडी, इंजीनियरिंग आदि। अगर आप इसमें सफल होते हैं तो आप साइंटिस्ट के पदों पर आवेदन कर सकते हैं।

आयु सीमा

साइंटिस्ट बनने के लिए उम्र की कोई सीमा नहीं है।  इसलिए आप वैज्ञानिक बनने के लिए किसी भी उम्र में आवेदन कर सकते हैं।  इसके साथ ही आप किसी अन्य विभाग में रहते हुए भी अपना शोध जारी रख सकते हैं और अपने लक्ष्य को सफलतापूर्वक प्राप्त कर सकते हैं।

इसरो में वैज्ञानिक कैसे बने

इसरो (भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन) अंतरिक्ष और विज्ञान के क्षेत्र में हमारे देश को आगे बढ़ाने का काम करता है।  इसरो में काम करने वाला हर वैज्ञानिक अपने देश को आगे बढ़ाने के लिए दिन रात काम करता है। अगर आपका भी सपना इसरो का वैज्ञानिक बनने का है तो आइए जानते हैं इसरो में वैज्ञानिक कैसे बनें

ISRO में साइंटिस्ट बनने के लिए आपको IIST (इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ स्पेस टेक्नोलॉजी) में एडमिशन लेना होता है।  इस संस्थान में प्रवेश मिलने के बाद इसरो उन छात्रों को सीधे साइंटिस्ट के पद पर भर्ती करता है। IIST में प्रवेश लेने के लिए एक छात्र को 12वीं कक्षा में गणित और विज्ञान विषय लेने होंगे।

आईआईएसटी में, आप या तो 4 साल की बी.टेक डिग्री या 5 साल की दोहरी डिग्री प्रोग्राम कर सकते हैं। इस डिग्री में आपको 7.5 सीजीपीए मेंटेन करना होता है और उसके बाद इसरो के पास जो भी वैकेंसी होती है वह आपको उसमें अपॉइंटमेंट देती है।आईआईएसटी में लगभग सभी छात्रों को इसरो में सीधी नौकरी मिलती है।

ISRO (इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गनाइजेशन) हर साल साइंटिस्ट के पद के लिए देश के टॉप कॉलेजों जैसे IIT (इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी) और NIT (नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी) में जाता है और वहां अपने पसंद के उम्मीदवारों का इंटरव्यू लेता है। उन्हें भर्ती करता है।

ISRO में वैज्ञानिक बनने के लिए कौन सी परीक्षा होती है?

इसरो हर साल एक परीक्षा आयोजित करता है, जिसे ‘आईसीआरबी’ यानी (इसरो सेंट्रलाइज्ड रिक्रूटमेंट बोर्ड) परीक्षा कहा जाता है।

यह परीक्षा तीन कैटेगरी में आयोजित की जाती है-

  • इलेक्ट्रोनिक
  • यांत्रिक
  • संगणक

बैचलर ऑफ इंजीनियरिंग, बैचलर ऑफ साइंस या बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी करने के बाद आप यह परीक्षा दे सकते हैं।  इस परीक्षा को देने के लिए आपको कम से कम 65% या उससे अधिक अंक प्राप्त करने होंगे। अगर आपके कॉलेज में सीजीपीए का सिस्टम है तो आपको कम से कम 6.84 सीजीपीए लाना होगा।

साइंटिस्ट की सैलरी

अगर वैज्ञानिक वेतन की बात करें तो यह पूरी तरह से वैज्ञानिक की योग्यता पर निर्भर करता है, जिस संस्थान से उन्होंने डिग्री और योग्यता और अनुभव प्राप्त किया है।

वैज्ञानिकों को शुरू से ही बहुत अच्छा वेतन मिलता है। उन्हें ₹30,000 से ₹1,00,000 प्रतिमाह वेतन मिलता है जो समय और अनुभव के साथ बढ़ता जाता है। आज अनुसंधान के क्षेत्र में कई ऐसे वैज्ञानिक हैं जो हर साल लाखों के पैकेज पर अपनी सेवाएं दे रहे हैं।

वैज्ञानिक बनने के लिए प्रवेश परीक्षा

वैज्ञानिक बनने के लिए अलग-अलग कोर्स के अनुसार आयोजित होने वाली प्रवेश परीक्षाएं इस प्रकार हैं-

  • BSc (Bachelor Degree)
  • JET
  • NPAT
  • BHU UET
  • SUAT
  • CUCET

एक वैज्ञानिक कौन है?

एक वैज्ञानिक वह होता है जिसने विज्ञान का अध्ययन किया हो और जिसका काम विज्ञान पढ़ाना या शोध करना है। वैज्ञानिक शब्द उस व्यक्ति को संदर्भित करता है जो विज्ञान का अध्ययन कर रहा है और उसे किसी एक या अधिक प्राकृतिक और भौतिक विज्ञानों का कुशल ज्ञान है। शब्द “वैज्ञानिक” धर्मशास्त्री दार्शनिक ‘विलियम व्हीवेल’ द्वारा दिया गया था।

वैज्ञानिक शब्द सुनते ही हमें गर्व का अनुभव होता है। अक्सर देखा गया है कि जब हम किसी बच्चे से पूछते हैं कि बेटा बड़ा होकर तुम क्या बनना चाहते हो तो हमें तरह-तरह के जवाब मिलते हैं, जिनमें से एक हमेशा सुनने में आता है कि मैं बड़ा होकर वैज्ञानिक बनूंगा।

निष्कर्ष

आज के इस लेख में हमने scientist kaise bane (वैज्ञानिक कैस बने) के बारे में जाना हम उम्मीद करते हैं कि अगर आपको यह लेख सही लगता है तो आप इसे सोशल मीडिया पर शेयर कर सकते हैं और ऐसी ही है पढ़ने के लिए आप हमारे कमेंट सेक्शन में भी लिख कर बता सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button