Education

Teacher Kaise Bane – सरकारी टीचर बनने से जुड़ी पूरी जानकारी।

नमस्कार दोस्तों कैसे हैं आप सब हम उम्मीद करते हैं कि आप कुशल पूर्वक होंगे दोस्तों आज हम इस लेख में बात करने जा रहे हैं टीचर कैसे बने (Teacher Kaise Bane) जैसा कि हम सभी जानते हैं आजकल हर कोई दिन रात मेहनत करके पड़ता है ताकि कोई जॉब हासिल कर सके यहां तक की  आजकल ज्यादातर लोग बीएड और डीएड करते हैं ताकि उन्हें टीचर की जॉब मिल जाए लेकिन उन्हें  यह पता नहीं होता है कि Ba.Bed करने के बाद Teacher Kaise Bane (टीचर कैसे बने) यह पता नहीं होता है इसीलिए आज इस लेख के माध्यम से हम जानेंगे कि Teacher Kaise Bane (टीचर कैसे बने टीचर) बनने के लिए क्या करना चाहिए ।

टीचर बनने के लिए योग्यता कितनी होनी चाहिए

यदि आप एक टीचर बनना चाहते हैं, तो सबसे पहले आपको यह तय करना होगा कि आप किस कक्षा के छात्रों को पढ़ना चाहेंगे? मतलब कि आप प्राइमरी टीचर बनना चाहते हैं या टीजीटी टीचर बनना चाहते हैं या पीजीटी टीचर बनना चाहते हैं?

  • प्राथमिक शिक्षक (पीआरटी शिक्षक) – कक्षा 1 से कक्षा 5 तक की पढ़ाई करता है।
  • टीजीटी टीचर- कक्षा 6वीं, 7वीं और 8वीं तक के छात्रों को पढ़ाएं।
  • पीजीटी टीचर- कक्षा 9वीं, 10वीं, 11वीं, 12वीं के छात्रों को पढ़ाई करनी होती है.

प्राइमरी टीचर कैसे बनें?

  • अगर आप प्राइमरी टीचर बनना चाहते हैं यानी आप कक्षा 1 से कक्षा 5 तक पढ़ना चाहते हैं तो उसके लिए आपको पहले कक्षा 12वीं पास करनी होगी।
  • 12वीं कक्षा में आपके कम से कम 50% अंक होने चाहिए, श्रेणी के अनुसार छूट दी जा सकती है।
  • 12वीं पास करने के बाद आपको डी.ई.एल.एड. का कोर्स करना होगा, आप ग्रेजुएशन के बाद भी इस कोर्स को कर सकते हैं।

डी.ई.एल.एड. कैसे करे

डी.ई.एल.एड. फुल फॉर्म है-डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन। यह एक डिप्लोमा कोर्स है जिसकी अवधि 2 साल की होती है। 2 साल में आपको चार सेमेस्टर की पढ़ाई करनी होती है और एक सेमेस्टर 6 महीने का होता है। D.el.ed कोर्स करने के लिए आपके पास कक्षा 12वीं में 50% होना चाहिए, अगर आप रिजर्व कैटेगरी में आते हैं तो आपको कुछ छूट मिल सकती है।डी एल एड करने के लिए कौन सा सब्जेक्ट होना चाहिए।

अगर आप आर्ट्स के छात्र हैं तो आप इस कोर्स को कर सकते हैं, इसके अलावा साइंस और कॉमर्स स्ट्रीम के छात्र भी इस कोर्स को कर सकते हैं।

डी एल ई डी का कोर्स करने के बाद क्या करना चाहिए

  • अगर आपने अपना डी.ई.एल. डिप्लोमा कोर्स किया है तो जब भी प्राइमरी टीचर की वैकेंसी आए तो आप उसमें अप्लाई कर सकते हैं.
  • D.el.ed कोर्स करने के बाद मेरिट के हिसाब से सिलेक्शन होता है यानी जिसके ज्यादा मार्क्स होंगे उसका सिलेक्शन पहले होगा.

Teacher Kaise Bane – टीजीटी टीचर कैसे बनें?

टीजीटी टीचर-टीजीटी का फुल फॉर्म है- प्रशिक्षित स्नातक शिक्षक जो टीजीटी शिक्षक होते हैं, वे कक्षा 6वीं से लेकर 10वीं कक्षा तक पढ़ाते हैं।

  • टीजीटी टीचर बनने के लिए आपको कम से कम ग्रेजुएशन पूरा करना होगा, आप जिस भी विषय में टीचर बनना चाहते हैं, उस विषय को आप अपने ग्रेजुएशन में ट्राई करें।
  • आपके पास ग्रेजुएशन में भी कम से कम 50% होना चाहिए।
  • ग्रेजुएशन के बाद आपको बी.एड कोर्स करना होगा, अगर आप ग्रेजुएशन के बाद बीएड कोर्स करते हैं तो इस कोर्स की अवधि 2 साल होगी।
  • B.Ed का कोर्स अच्छे से करने के बाद आपको TET की परीक्षा क्लियर करनी होती है.

पीजीटी टीचर कैसे बनें?

अगर आप पीजीटी टीचर बनना चाहते हैं यानी आपको 11वीं और 12वीं क्लास के छात्रों को पढ़ाने के लिए कहा जाता है तो आपको पीजीटी टीचर बनना होगा। पीजीटी का फुल फॉर्म है- पोस्ट ग्रेजुएट टीचर। पीजीटी टीचर बनने के लिए जरूरी है कि आपने ग्रेजुएशन के बाद पोस्ट ग्रेजुएशन किया हो, इसके साथ-साथ अपना बी.एड कोर्स भी करना जरूरी है। पीजीटी शिक्षक बनने के लिए आपको बी.एड के बाद टीईटी उत्तीर्ण करना होगा।  तभी आप पीजीटी टीचर बन पाएंगे।

टीचर बने के लिए क्या करे

अगर आपने अब तक इस लेख को पढ़ा है तो आप इतना समझ गए होंगे कि अगर आप सरकारी शिक्षक बनना चाहते हैं तो आपको बी.एड करना होगा और उसके बाद आपको टीईटी भी क्वालीफाई करना होगा तभी आप एक शिक्षक बन सकते हैं।  शिक्षक। टीईटी यनी टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट- यह एक तरह की परीक्षा है, पास आने के बाद आपको एक सर्टिफिकेट मिलता है कि अब आप टीचर बनने के लिए तैयार हैं. टीईटी क्वालिफाई करने के बाद जब भी शिक्षक की वैकेंसी आएगी, आप उसमें आवेदन कर सकते हैं।

 टीईटी दो प्रकार की होती है-

  • CTET
  • STET

सीटीईटी – केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा

यदि आपने अपना CTET क्वालिफाई कर लिया है तो पूरे देश में कहीं भी शिक्षक पद रिक्त होंगे तो आप इसमें आवेदन करने के पात्र होंगे।

एसटीईटी – राज्य शिक्षक पात्रता परीक्षा

जैसा कि नाम से पता चलता है, एसटीईटी राज्य स्टार पर है, सभी राज्य अपनी अलग-अलग परीक्षाएं आयोजित करते हैं, जैसे यूपी, यूपीटीईटी, बिहार बिहार, राजस्थान राजस्थान राजस्थान टीईटी आदि।

आप जिस भी राज्य में टीईटी क्वालिफाई करते हैं, आप उसी राज्य में शिक्षक बन सकते हैं, जबकि सीटीईटी क्वालिफाई करने के बाद पूरे देश में कहीं भी।

यह भी पढ़े- Dimag Tej Kaise Kare

Sarkari Teacher Salary – एक सरकारी टीचर की सैलरी कितनी होती है?

अब बात करते हैं कि एक सरकारी टिचर की सैलरी कितनी होती है? टिचर  का वेतन इस बात पर निर्भर करता है कि वह किस प्रकार का शिक्षक है अर्थात प्राथमिक शिक्षक या टीजीटी शिक्षक या पीजीटी शिक्षक?

प्राथमिक टिचर का वेतन – 28000-30000 रुपये प्रति माह

टीजीटी टिचर का वेतन – 32000-35000 रुपये प्रति माह

पीजीटी शिक्षक का वेतन – 40000-450000B प्रति माह हो सकता है।

सरकारी टिचर के लिए आगे के कैरियर के अवसर

एक बार जब आप शिक्षक के पद पर तैनात हो जाते हैं, तो उसके बाद आपके सामने करियर के कई अवसर खुल जाते हैं।  एक शिक्षक के विकास को उसके अनुभव, समय, प्रदर्शन और कौशल के आधार पर पढ़ा जाता है। शिक्षकों को धीरे-धीरे बढ़ावा देने के लिए आपको कुछ पद दिए गए हैं:

  •   वरिष्ठ शिक्षक
  •   सह अध्यापक
  •   प्रधानाध्यापक
  •   प्रधानाचार्य

टिचर बनने के लाभ

  •  टिचर को अन्य नौकरियों की तुलना में अधिक छुट्टी मिलती है।
  • टिचर का वेतन भी अच्छा है।
  • टिचर का शिक्षण समय भी निश्चित या निश्चित होता है, जिससे उसे अपने निजी कार्यों के लिए भी अच्छा समय मिलता है।
  • टिचर के पास देश को एक बेहतर कल देने का मौका है। वह शुरू से ही बच्चों में अच्छे संस्कार पैदा कर सकते हैं ताकि हमारा देश और उसके युवा सही रास्ते पर आगे बढ़ सकें।
  • एक पेशे के रूप में अध्यापन एक बहुत ही संतोषजनक करियर है। इसमें आप अपनी प्रगति या बच्चों की प्रगति में अपने प्रयासों का परिणाम देखते हैं।
  • टिचर एक बहुत ही सम्मानजनक कार्य है।

निष्कर्ष

दोस्तों इस लेख में आपने जाना की Teacher Kaise Bane (टीचर कैसे बने) अगर आप आपको मेरे द्वारा Teacher Kaise Bane (टीचर कैसे बने) के बारे में दिया गया जानकारी सही लग रहा है तो आप इसे सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करिएगा क्योंकि बहुत से ऐसे लोग हैं जो टीचर बनना चाहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button